FIR Application in Hindi 2023 | FIR Application कैसे लिखें ?

FIR Application in Hindi :- स्वागत है आपका हमारे इस पोस्ट में, आज की इस पोस्ट में हम और आप जानेंगे कि FIR ke liye application kaise likhe अगर आप भी जानना चाहते हैं कि FIR ke liye application kaise likhe तो इस पोस्ट को बिल्कुल अंत तक जरूर पढ़ें।

क्योंकि इस पोस्ट में हम आपको यह तो बताएंगे ही कि FIR ke liye Application Kaise Likhe इसके साथ साथ FIR एप्लीकेशन के बारे में अन्य जानकारियां भी देंगे, जैसे :- FIR क्या है, FIR application क्या है, FIR application क्यों लिखा जाता है, एप्लीकेशन लिखने के तरीके, FIR application के महत्व, सावधानियां, इत्यादि।

आशा करता हूं इस पोस्ट को पढ़ने के उपरांत आपको FIR Application लिखना आ जाएगा साथ ही आपको आपके प्रश्न के उत्तर भी मिल जाएंगे कि FIR ke liye application kaise likhe

FIR क्या है ?

FIR का full form (फुल फॉर्म) Frist Information Report (फर्स्ट इनफॉरमेशन रिपोर्ट) होता है तथा इसे हिंदी में “प्राथमिकी” भी कहते हैं। यह अक्सर अपने क्षेत्र के थाना अधिकारी को लिखा जाता है जिसमें किसी निश्चित घटना की सूचना दर्ज होती है। यह एक प्रकार की जानकारी है जो लोग अपने क्षेत्र के थाना को देते हैं ताकि समस्या को जानकर उस समस्या को दूर करने का कार्य किया जाए।

जब भी कोई घटना किसी के साथ घटित होती है तो इसकी प्रथम सूचना नजदीकी थाना को दिया जाता है और थाना के कर्मचारी उस समस्या को अंकित करते हैं, इसी पूरी प्रक्रिया को FIR कहा जाता है।

FIR Application क्या है ?

यह एक प्रकार का एप्लीकेशन होता है जो अपने क्षेत्र के थाना प्रभारी के नाम लिखा जाता है, इस आवेदन में किसी निश्चित घटनाओं का विवरण होता है, इस आवेदन में उस घटना का सारा ब्यौरा निहीत होता है ताकि पूरी घटना पुलिस पदाधिकारी को बताई जाए जिसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जाती है।

FIR Application क्यों लिखा जाता है ?

FIR application तब लिखा जाता है जब लोगों के साथ कोई दुर्घटना घटती है और वह इस घटना का आभास पुलिस पदाधिकारी को कराना चाहते हैं, ऐसे कई सारी घटनाएं लोगों के साथ अक्सर घटती रहती है जो उनके लिए सामान्य नहीं होती, कुछ घटनाएं इस प्रकार है जिसके लिए FIR application लिखा जाता है :-

1.) मारपीट के लिए :-

जब लोगों को किसी व्यक्ति से लड़ाई या मारपीट होती है जिसमें लोग घायल हो जाते हैं या मृत्यु हो जाती है, ऐसी स्थिति में सर्वप्रथम FIR किया जाता है और FIR करने के लिए आवेदन लिखा जाता है।

2.) अतिक्रमण के संबंध में :-

जब लोगों के जमीन या मकान पर कोई दूसरा व्यक्ति जबरदस्ती कब्जा यानी अतिक्रमण कर लेता है और लाख समझाने पर वह उस जगह को खाली नहीं करता तो मजबूरन लोग FIR application लिखकर थाने में सूचित करते हैं।

3.) सामान चोरी होने पर :-

जब किसी व्यक्ति का कोई सामान चोरी हो जाता है या गायब हो जाता है तो ऐसी स्थिति में वे अपने क्षेत्र के थाना प्रभारी को इस घटना की सूचना देते हैं ताकि उनका वह सामान जल्द से जल्द मिल जाए।

FIR application in Hindi

  • सबसे पहले बाई तरफ से लिखें “सेवा में”, तथा उसी पंक्ति में दाएं तरफ से दिनांक लिखें।
  • अब उसके नीचे बाई तरफ से “श्रीमान / श्रीमती थाना प्रभारी महोदय/महोदया” लिखें।
  • उसके नीचे बाई तरफ से “थाना प्रभारी का नाम” लिखें।
  • उसके नीचे बाई तरफ से “थाना का पता” लिखें।
  • उसके नीचे बाई तरफ से “विषय” लिखें।
  • उसके नीचे बाई तरफ से “महाशय” लिखें।
  • अब नीचे बाएं तरफ से लिखें “मेरा नाम ……………. है, और मैं ……..(थाना क्षेत्र का नाम) …….. थाना के ………(गाँव का नाम)………गाँव का स्थाई निवासी हूँ |
  • आगे अपने समस्या से जुड़ी जानकारी विस्तार में लिखें,
  • समस्या बताने के बाद अगली पंक्ति में लिखें “अतः श्रीमान / श्रीमती थाना प्रभारी महोदय/महोदया से आग्रह एवं निवेदन है कि (अपना विषय) की कृपा करें।
  • अब उसके नीचे बाईं तरफ से “अपना नाम तथा पता” तथा उसके नीचे दाएं तरफ अपना “हस्ताक्षर” डालें।

इसे भी पढ़ें :-

FIR ke liye Application Format (Hindi)

FIR ke liye application format
FIR Application in Hindi

FIR ke liye Application Format (English)

FIR ke liye application format
FIR Application in Hindi

FIR Application in Hindi

1.) जमीनी मामले के लिए FIR एप्लीकेशन

दिनांक :- 25/01/2023

सेवा में, 

श्रीमान थाना प्रभारी महोदय

Saharghat (Madhubani)

विषय:- जमीन संबंधी मामले के लिए एप्लीकेशन 

महाशय,

सविनय निवेदन यह है कि मैं अंकित कुमार, पंकज ठाकुर का सुपुत्र हूँ और मैं साहरघाट थाना के उत्तरा गाँव का स्थाई निवासी हूँ | मेरी समस्या यह है कि मेरे छोटे भाई तथा मेरे बीच जमीन का सामाजिक बटबारा हुआ था जिसे मेरा छोटा भाई नहीं मान रहा है, कल शाम मे हम दोनों के बीच लड़ाई हो गई जिसमे उसने मुझे काफी चोट पहुँचाई |

अतः श्रीमान थाना प्रभारी महोदय से आग्रह एवं निवेदन है कि मेरे इस जमीनी विवाद को जल्द से जल्द सुलझाने की कृपा करें।

“धन्यवाद”

आपका नाम :- अंकित कुमार 

पता :- साहरघाट (मधुबनी)  

हस्ताक्षर  :- Ankit Kumar 

FIR ke liye application kaise likhe
FIR Application in Hindi

2.) मोबाइल चोरी हो जाने पर FIR एप्लीकेशन

दिनांक :- 25/01/2023

सेवा में, 

श्रीमान थाना प्रभारी महोदय

Saharghat (Madhubani)

विषय:- मोबाइल चोरी हो जाने पर एप्लीकेशन

महाशय,

सविनय निवेदन यह है कि मैं अंकित कुमार, पंकज ठाकुर का सुपुत्र हूँ और मैं साहरघाट थाना के उत्तरा गाँव का स्थाई निवासी हूँ | यह घटना दिनांक 24/01/2023 शाम 6 बजे की है, मै अपने दोस्तों के साथ रोड पर टहल रहा था तभी अचानक बगल से एक आदमी तेजी से गुजरा, उसके जाने के कुछ देर बाद मैंने पाया की मेरा मोबाईल मेरे पास नहीं है, मैंने हर जगह ढूंढ पर कहीं नहीं मिला मुझे संदेह है की उस आदमी ने मेरा फोन चुराया है |

अतः श्रीमान थाना प्रभारी महोदय से आग्रह एवं निवेदन है कि मेरे चोरी हो चुके मोबाईल कि खोज करने की कृपा करें।

“धन्यवाद”

आपका नाम :- अंकित कुमार 

पता :- साहरघाट (मधुबनी)

हस्ताक्षर  :- Ankit Kumar 

FIR ke liye application kaise likhe
FIR Application in Hindi

3.) लड़ाई झगड़े होने पर FIR एप्लीकेशन

दिनांक :- 25/01/2023

सेवा में, 

श्रीमान थाना प्रभारी महोदय

Saharghat (Madhubani)

विषय:- लड़ाई झगड़े होने पर एप्लीकेशन

महाशय,

सविनय निवेदन यह है कि मैं अंकित कुमार, पंकज ठाकुर का सुपुत्र हूँ और मैं साहरघाट थाना के उत्तरा गाँव का स्थाई निवासी हूँ | यह घटना दिनांक 24/01/2023 शाम 6 बजे की है, मै अपने भाई के साथ मधुबनी बाजार घूमने जा रहा था, रास्ते में अचानक 2-3 आदमी आकर हम दोनों को मारने लगे और कुछ देर बाद वहाँ से चले गए, हम दोनों भाई को काफी चोट आई है |

अतः श्रीमान थाना प्रभारी महोदय से आग्रह एवं निवेदन है कि इस मामले मे हमारी मदद करने की कृपा करें।

“धन्यवाद”

आपका नाम :- अंकित कुमार 

पता :- साहरघाट (मधुबनी)

हस्ताक्षर  :- Ankit Kumar 

FIR application in hindi
FIR Application in Hindi

FIR Application के महत्व

FIR एप्लीकेशन का महत्व FIR के लिए काफी आवश्यक है, इस एप्लीकेशन का योगदान FIR करने में है, अगर आपको किसी को FIR करना है तो आपको यह आवेदन लिखना होता है ताकि थाने में प्राथमिकी दर्ज कर सके।

अगर आप इस आवेदन को थाने में जमा नहीं करते हैं तो आपका रिपोर्ट दर्ज नहीं हो पाएगा क्योंकि थाना प्रभारी को आपके घटना के बारे में पूरी जानकारी नहीं मिल पाएगी परिणाम स्वरूप प्राथमिकी दर्ज नहीं की जाएगी।

FIR Application लिखते समय ध्यान दें

  • FIR Application लिखने के लिए हमेशा सारे कागज का उपयोग करें।
  • इस आवेदन में कहीं भी Overwriting नहीं होनी चाहिए।
  • आवेदन मे उसी दिन का दिनांक डालें जिस दिन आप उसे जमा करने जा रहे हैं।
  • इस आवेदन में अपना हस्ताक्षर अवश्य करें।
  • FIR Application लिखते समय हमेशा सामान्य भाषा का उपयोग करें।
  • FIR Application ऐसे लिखे जिसे पढ़ने से आपकी बातो का भाव स्पष्ट रूप से पता चले।
  • FIR Application में आपकी भाषा सरल तथा दूसरे के समझने योग्य होनी चाहिए।
  • आवेदन को लिखते समय यह ध्यान रखें कि आप सही फॉर्मेट का उपयोग कर रहे हैं।
  • आवेदन में दिनांक, विषय, नाम तथा पता को अवश्य अंकित करें।

FAQ

Q.1) एफ आई आर एप्लीकेशन कैसे लिखें ?

Answer :- एफ आई आर का एप्लीकेशन एक निश्चित फॉर्मेट के आधार पर लिखा जाता है, इस फॉर्मेट को आधार मानकर आवेदन पूरा किया जाता है, आवेदन 2 भाषाओं में मुख्य रूप से लिखा जाता है पहला – हिंदी तथा दूसरा – अंग्रेजी।

Q.2) हिंदी में FIR कैसे लिखें ?

Answer :- अगर आप हिंदी में FIR आवेदन लिखना चाहते हैं ताकि उस आवेदन के जरिए किसी के खिलाफ FIR कर सके तो आपको इस पोस्ट में बताएं तरीके के आधार पर आवेदन लिखना होगा साथ ही उसमें आपको आपकी समस्याओं के विस्तार में अंकित करना होगा।

Q.3) FIR का फुल फॉर्म क्या होता है ?

Answer :- FIR (एफ आई आर) का फुल फॉर्म Frist Information Report (फर्स्ट इनफॉरमेशन रिपोर्ट) होता है जिसे हिंदी में “प्राथमिकी” दर्ज करना कहते हैं।

Conclusion

दोस्तों इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि FIR ke liye application kaise likhe साथ ही इस पोस्ट में हमने FIR Application in Hindi के बारे में सारी जानकारियां विस्तार में जानी, जैसे :- FIR क्या है, FIR application क्या है, FIR application क्यों लिखा जाता है, एप्लीकेशन लिखने के तरीके, FIR application के महत्व, सावधानियां, इत्यादि।

आशा करता हूं इस पोस्ट को पढ़कर आपको कुछ नया सीखने को मिला होगा साथ ही आपको आपके प्रश्न का भी उत्तर मिल गया होगा कि FIR ke liye application kaise likhe

इसे भी पढ़ें :-

Leave a Comment