(SBI तथा PNB) KYC Form कैसे भरें 2023 | KYC Form kaise bhare

KYC Form kaise bhare :- स्वागत है आपका हमारे इस ब्लॉग में आज की इस पोस्ट में हम और आप जानेंगे कि KYC Form kaise bhare अगर आप भी जानना चाहते हैं कि KYC Form kaise bhare तो इस पोस्ट को बिल्कुल अंत तक जरूर पढ़ें

क्योंकि इस पोस्ट में हम आपको यह तो बताएंगे ही कि KYC Form kaise bhare साथ ही इसके बारे में सारी जानकारियां प्राप्त करेंगे जैसे :- केवाईसी क्या होता है, केवाईसी फॉर्म क्या होता है, केवाईसी फॉर्म भरने के कारण, केवाईसी फॉर्म के प्रकार, केवाईसी फॉर्म भरने का तरीका, केवाईसी करवाने के माध्यम, केवाईसी फॉर्म भरने के फायदे, केवाईसी फॉर्म के महत्व, सावधानियां, इत्यादि। 

आशा करता हूं इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के उपरांत आपको केवाईसी फॉर्म भरना आ जाएगा साथ ही आपको आपके प्रश्नों के उत्तर भी मिल जाएंगे कि KYC Form kaise bhare

KYC क्या है ?

KYC का फुल फॉर्म “know Your Customer” होता है, हिंदी में इसका मतलब है “ग्राहक को पहचानो”। यह एक सरकारी कार्यक्रम है जो अक्सर ग्राहकों की पहचान करने के लिए किया जाता है, यह काफी आवश्यक कार्य है जिसके आधार पर पता किया जाता है कि कौन ग्राहक सही है तथा कौन गलत।

इसकी आवश्यकता अक्सर सभी प्रकार की सरकारी तथा गैर सरकारी बैंकों को होती है ताकि समय-समय पर ग्राहकों की जांच की जाए। यह मुख्यतः बड़ी बैंक के द्वारा किया जाने वाला मूलभूत कार्य है जो RBI (आरबीआई) द्वारा आदेशानुसार कार्य करती है। इस प्रक्रिया में आपसे आपकी सरकारी दस्तावेज मांगे जाते हैं साथ ही आपकी सामान्य जानकारी भी ली जाती है।

KYC Form (केवाईसी फॉर्म) क्या होता है ?

जैसा कि नाम से ही यह साफ पता चलता है कि यह एक प्रकार का फॉर्म है जो केवाईसी के कार्यो को पूरा करने के लिए आवश्यक माना जाता है, ऐसा फॉर्म जिसे केवाईसी करने के लिए उपयोग किया जाता है उसे “KYC Form” (केवाईसी फॉर्म) के नाम से जाना जाता है।

इस फॉर्म में केवाईसी करने से संबंधित सभी जानकारियों को भरने का विकल्प होता है जिसमें ग्राहक अपनी-अपनी जानकारियां भरते हैं जिसके आधार पर यह देखा जाता है कि किसकी जानकारी सही है तथा किसकी गलत।

इस फार्म में ग्रहण की जानकारी को भरने योग्य सारे विकल्प अलग-अलग दिए गए होते हैं ताकि ग्राहकों को भरते समय दिक्कत ना हो और वह इस फॉर्म को आसानी से भर सके।

KYC Form भरने के कारण

KYC Form को भरने के काफी सारे कारण होते हैं, जैसा कि मैंने आपको पहले ही बताया कि केवाईसी फॉर्म इसलिए भरा जाता है ताकि ग्राहकों का केवाईसी किया जा सके, अगर kyc की बात करें यह बिना फॉर्म भरे भी किया जा सकता है परंतु ऐसे में ग्राहकों एवं कर्मचारियों दोनों को परेशानी हो सकती है। 

बिना फॉर्म भरे अगर सीधा केवाईसी किया गया तो इससे ग्राहकों की काफी लंबी कतार लग जाएगी जिसकी वजह से ग्राहकों का जादा समय चला जाएगा साथ ही कर्मचारियों का भी समय बर्बाद होगा।

ऐसे में इस form की आवश्यकता होती है, इस फॉर्म में ग्राहक अपनी जानकारियां भरकर कर्मचारी को देंगे तथा उसे ऑनलाइन करने का काम एक-एक करके किया जाएगा।

KYC Form के प्रकार

ऐसे तो KYC करने का तरीका सबका एक समान होता है तथा केवाईसी में ली जाने वाली जानकारी भी लगभग समान ही होती है परंतु हर बैंक तथा संगठन का KYC Form अलग-अलग हो सकता है तथा उस फॉर्म में दी गई जानकारियों को भरने का स्थान भी अलग-अलग होता है।

इस form में सभी बैंकों तथा संस्थानों का नाम अंकित रहता है ताकि इस फॉर्म की पहचान उस संस्थानों द्वारा किया जा सके। इस फॉर्म के पृष्ठ पर ग्राहकों को भरने योग्य जानकारियों की संख्या कम या ज्यादा हो सकती है साथ ही में इसका क्रमांक भी ऊपर नीचे हो सकता है।

KYC करवाने के माध्यम

अगर आप एक बैंक ग्राहक है तथा आपको केवाईसी करवाने की आवश्यकता हो गई है तो आपके मन में यह प्रश्न जरूर आ रहा होगा कि केवाईसी करवाने के कौन-कौन माध्यम है ?

जवाब :- सामान्यतः केवाईसी करवाने के दो माध्यम हैं पहला – बैंक जाकर तथा दूसरा – ऑनलाइन बैंकिंग के माध्यम से, आप दोनों में से किसी भी माध्यम को उपयोग करके केवाईसी करवा सकते हैं।

अगर आप अपने बैंक के ऑनलाइन बैंकिंग सुविधा का इस्तेमाल कर रहे हैं तो आप इस तरीके से अपना केवाईसी कर सकते हैं, यह केवाईसी आपको खुद से करनी होगी तथा इसमें आपको बैंक जाने की आवश्यकता नहीं है परंतु अगर आप ऑनलाइन बैंकिंग का इस्तेमाल नहीं करते तो आपको अपने बैंक के शाखा में जाकर form लेना होगा तथा उसको भरकर जमा करना होगा ।

KYC के लिए प्रमुख दस्तावेज

जैसा कि मैंने आपको पहले ही बताया कि यह एक सरकारी तथा जरूरी प्रक्रिया है जिसमें हर ग्राहक को शामिल होना है इसके आधार पर यह पता लगाया जाता है कि कौन सा ग्राहक सही है अथवा कौन सा गलत

इस बात का पता तभी लगाया जा सकता है जब उस ग्राहक की कोई ऐसी दस्तावेज ली जाए जिसमें उसका सरकार द्वारा प्रमाणित सारी जानकारी उपलब्ध हो ताकि उस दस्तावेजों के आधार पर उनके खाते में उपलब्ध जानकारी की जांच की जा सके।

इस प्रक्रिया में मांगे जाने वाले दस्तावेजों के नाम निम्नलिखित है जिसमें पैन कार्ड आवश्यक है साथ ही एक और दस्तावेज आपको इसके अलावा देना होगा :-

  • आधार कार्ड (Aadhaar Card) 
  • ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License)
  • पासपोर्ट (Passport)
  • वोटर आईडी कार्ड (Voter ID Card) 

SBI के लिए (KYC Form Kaise Bhare)

SBI ka KYC Form kaise bhare
SBI ka KYC Form kaise bhare

इस फॉर्म में आपको कुछ साधारण से विकल्प मिलेंगे जिसमें आपको केवल टिक लगाना होता है तथा कुछ जगहों पर आपको अपनी जानकारी लिखनी भी पड़ती है, आइए सारी जानकारियों को भरने का तरीका आपको बारी-बारी से बताते हैं :-

1.) Identity Details :-

  • सबसे पहले इसमें अपना नाम या जिसका केवाईसी किया जा रहा है उसका नाम लिखें।
  • अब उस व्यक्ति के पिता का नाम लिखें।
  • अगले बॉक्स में उसका Gender डालें।
  • अब उस व्यक्ति का marital status (वैवाहिक दशा) डालें।
  • उस व्यक्ति का आधार कार्ड के मुताबिक date of birth अंकित करें।
  • अब आप यह लिखें कि वह व्यक्ति जिसका केवाईसी होने जा रहा है वह किस देश का नागरिक है।
  • अब आगे के बॉक्स में उसके यहां रहने की अवस्था यानी residence status व्यक्त करें।
  • अब आगे उस व्यक्ति का पैन कार्ड नंबर अंकित करें।
  • अगले बॉक्स में आधार कार्ड नंबर डालें।
  • उसके अगले बॉक्स में जो दस्तावेज आप दे रहे हैं उसे व्यक्त करें, अगर आप आधार कार्ड दे रहे हैं तो tick लगाएं अन्यथा उसका नाम लिखें।

2.) Address Details :-

  • इसमें सबसे पहले वाले बॉक्स में अपना रहने का स्थान डालें।
  • अगले बॉक्स में address proof का नाम दर्ज करें।
  • तीसरी बॉक्स में अपना मोबाइल नंबर डालें।
  • आगे वाले बॉक्स में अपना स्थाई पता दर्ज करें।
  • आगे अपने एड्रेस प्रूफ का नाम डालें।

3.) Other Details :-

  • इसकी सबसे पहले बॉक्स में अपना annual income (सालाना आय) अंकित करें। 
  • आगे अपने कार्य के विषय में लिखें कि आपका कार्य (occupation) क्या है।  

4.) Declaration :- 

  • यहाँ आपसे कुछ स्वीकारने के लिए कहा जाता है इसके विषय में उस फॉर्म में लिखा होता है।
  • उसके नीचे आपको फॉर्म जमा करने का दिनांक लिखना है।
  • अब आगे sign (हस्ताक्षर) करने का बॉक्स होगा, उसमें उस व्यक्ति को साइन करना है जिसका केवाईसी किया जा रहा है।

5.) Photo :-

  • सारी जानकारी सही-सही भरने के बाद आपको अपना एक पासपोर्ट साइज फोटो उस form में लगाना है जिसको लगाने का स्थान उसी फॉर्म में निहित है।

PNB के लिए (KYC Form Kaise Bhare) 

PNB ka KYC Form kaise bhare
PNB ka KYC Form kaise bhare

इस KYC Form में भी आपको लगभग सारी जानकारियां तथा विकल्प sbi form जैसा ही मिलेगा परंतु कुछ जानकारियां अलग होगी :-

इसे भी पढ़ें :-

1.) Identity Details :-

  • इसमें सबसे प्रथम बॉक्स नाम अंकित करने का है जिसे अंकित करें।
  • अब अपने पिता का पूरा नाम डालें। 
  • अब आगे अपनी माता का नाम डालें। 
  • अगले बॉक्स में घर के मुखिया का नाम डालें। 
  • आगे वाले बॉक्स में लिखें कि घर के मुखिया से आपका क्या संबंध है। 
  • अगले बॉक्स में अपना जन्म तिथि अंकित करें। 
  • आगे अपना marital status (मैरिटल स्टेटस) यानी वैवाहिक स्थिति दर्शाएं।
  • अगले बॉक्स में आप अपने नागरिकता के बारे में लिखें।
  • उसके अगले बॉक्स में अपने वर्तमान तथा स्थाई पता की व्याख्या करें।
  • उसके अगली पंक्ति में अपने कार्य यानी occupation (ऑक्यूपेशन) के बारे में बताएं। 
  • अब अगले बॉक्स में अपने सालाना आय के बारे में लिखें।
  • उसके आगे आप कौन सी जाति से हैं वह लिखें। 
  • आगे आप इस बैंक के किस प्रकार के कर ग्राहक हैं वह चिन्हित करें, 

2.) TDS details :-

  • इस पूरे बॉक्स में आपसे आपके पैन कार्ड डिटेल के बारे में पूछा जाएगा जिसमें आपको आपका पैन नंबर लिखना है।

3.) Aadhaar Details :-

  • इस पूरे बॉक्स में आपसे आपका आधार से संबंधित जानकारी मांगी जाएगी जिसमें आपको अपना आधार नंबर लिखना है।

4.) Proof Identity :-

  • इसमें आपसे आपके निवास प्रमाण यानी address proof के बारे में पूछा जाएगा जो भी प्रूफ आप देना चाहते हैं उसे लिखे साथ में उसका नंबर अंकित करें।

5.) Address :-

  • इसमें आपसे आपके रहने के स्थान के बारे में पूछा जाएगा जिसमें आपके वर्तमान तथा स्थाई दोनों स्थान की पूर्ण व्याख्या मांगी जाएगी।

6.) Contact Details :-

  • इस बॉक्स में आपसे आपका मोबाइल नंबर मांगा जाएगा जिसे आपको सही-सही अंकित करना है।

7.) Declaration :-

  • यह इस फार्म का आखिरी पड़ाव होता है जिसमें कुछ लिखा होता है आपके पढ़ने योग्य, इसे पढ़िए साथ ही कुछ विकल्प भी होते हैं जो वैकल्पिक होते हैं अगर आपको समझ नहीं आ रहा तो आप उसे छोड़ सकते हैं।
  • अंत में आपको फॉर्म जमा करने का दिनांक तथा स्थान लिखना है साथ ही sign वाले बॉक्स में अपना हस्ताक्षर करना है।

8.) Photo :-

  • पूरे KYC Form को भरने के बाद आपको अपना एक पासपोर्ट साइज फोटो उस form में लगाना है, इस form में आपको उसे लगाने का स्थान मध्य में मिल जाएगा।

KYC Form PDF

KYC Form भरने के फायदे

हर फॉर्म की भांति केवाईसी फॉर्म को भरने का भी कुछ विशेष फायदा है जो कि निम्नलिखित है :-

  • KYC Form भरने के बाद ही आपका केवाईसी किया जाता है।
  • KYC Form को भरने तथा उसे जमा करने के बाद आप अपने बैंक खाते के द्वारा लेन-देन कर सकते हैं।
  • इस फार्म को भरकर जमा करने के बाद आप अपने बैंक की नेट बैंकिंग सुविधा का आनंद ले सकते हैं।
  • इसके बाद आपके खाते में हर प्रकार की सरकारी अनुदान राशि मिल सकती है।
  • इसके बाद आप अपना पैसा खाते से आधार कार्ड के मदद से भी निकाल सकते हैं।
  • KYC के बाद आपको आपका एटीएम कार्ड, चेक बुक, पासबुक जैसी जरूरी कागजात मिल सकते हैं।
  • KYC के बाद ही आपको एलपीजी सब्सिडी मिल सकती है।

KYC Form के महत्व

केवाईसी करने की प्रक्रिया में केवाईसी फॉर्म का विशेष महत्व होता है इस form के आधार पर ही ग्राहक अपनी जरूरी दस्तावेज देते हैं तथा फॉर्म में अपनी निजी जानकारियां भरते हैं, अगर केवाईसी करने के लिए इस form का उपयोग नहीं किया जाता तो ग्राहकों को यह पता नहीं चलता कि केवाईसी में क्या-क्या जानकारियां तथा दस्तावेज देने होते हैं। 

इसके परिणाम स्वरूप लोग अलग-अलग दस्तावेजों के साथ आते तथा गलत जानकारियां भरते जिसकी वजह से उनका केवाईसी पूर्ण नहीं हो पाता वह अधूरा रह जाता है। साथ ही उन्हें इस प्रक्रिया को बार-बार दोहराना पड़ता जिसकी वजह से समय तथा मेहनत दोनों व्यर्थ होता है।

सावधानियां

इस केवाईसी फॉर्म को भरने से पहले आपको कुछ सावधानियों का विशेष ख्याल रखना चाहिए ताकि आपका KYC सफलतापूर्वक संपन्न हो सके, सारी सावधानियां इस प्रकार है :-

  • इस फॉर्म को भरने के लिए हमेशा black या blue पेन का इस्तेमाल करें।
  • इस फॉर्म में दी गई सारी विकल्प सही-सही भरे।
  • इस फॉर्म में कहीं भी overwrite ना करें।
  • Form में दी गई स्थानों पर ही अपनी जानकारी लिखें।
  • इस फॉर्म को हमेशा अपने शाखा से ही प्राप्त करें।
  • इस फॉर्म को कहीं फटने से बचाएं

FAQ

Q.1) केवाईसी कराना क्यों आवश्यक है ?

Answer :- केवाईसी की आवश्यकता इसलिए है क्योंकि इसके द्वारा ग्राहकों की जांच की जाती है कि कौन सा ग्रहक अपनी सही जानकारी अपने खाते में दिया है तथा कौन गलत। 

Q.2) केवाईसी कराने की विधि क्या है ?

Answer :- केवाईसी आप दो तरीकों के माध्यम से करवा सकते हैं पहला – बैंक जाकर तथा दूसरा – ऑनलाइन बैंकिंग के द्वारा। अगर आप ऑनलाइन बैंकिंग का इस्तेमाल करते हैं तो आप घर बैठे ऑनलाइन केवाईसी कर सकते है अन्यथा आपको अपने बैंक के शाखा में जाना होगा।

Q.3) केवाईसी में कौन-कौन से दस्तावेज मांगे जाते हैं? 

Answer :- केवाईसी की प्रक्रिया में आपसे आपका दो जरूरी दस्तावेज लिया जाता है पहला – आपका पैन कार्ड जो आवश्यक है और दूसरा – जिसमें आप अपना कोई एक दस्तावेज दे सकते हैं, जैसे :- आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड, इत्यादि।

Conclusion

दोस्तों इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि KYC Form kaise bhare इस पोस्ट में हमने KYC Form kaise bhare के बारे में सारी जानकारियां विस्तार में जानी साथ ही हमने इसके बारे में अन्य जानकारियां भी प्राप्त की 

जैसे :- Kyc क्या होता है, kyc form क्या होता है, kyc form भरने के कारण, kyc form के प्रकार, kyc form भरने का तरीका, kyc करवाने के माध्यम, kyc form भरने के फायदे, kyc form के महत्व, सावधानियां, इत्यादि।

आशा करता हूं इस पोस्ट को पढ़कर आपको कुछ नया सीखने को मिला होगा साथ ही आपको आपके प्रश्न का भी उत्तर मिल गया होगा कि KYC Form kaise bhare

इसे भी पढें :-

Leave a Comment