Police को Application कैसे लिखें 2023 | 7+ आवेदन Format

Application for Police Station in Hindi :- स्वागत है आपका हमारे इस ब्लॉग में, आज की इस पोस्ट में हम और आप जानेंगे कि Police ko application kaise likhe अगर आप भी जानना चाहते हैं कि पुलिस को एप्लीकेशन कैसे लिखे तो इस पोस्ट को बिल्कुल अंत तक जरूर पढ़ें |

क्योंकि इस पोस्ट में हम आपको यह तो बताएंगे ही कि Police ko application kaise likhe इसके साथ ही हम इसके बारे में अन्य जानकारियां भी जानेंगे जैसे :- police application क्या होता है, पुलिस को एप्लीकेशन लिखने के कारण, police application के प्रकार, पुलिस को एप्लीकेशन लिखने का तरीका, police application format, महत्व, सावधानियां, इत्यादि |

आशा करता हूं इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के उपरांत आपको पुलिस एप्लीकेशन यानी थाना प्रभारी को आवेदन लिखना आ जाएगा साथ ही आपको आपके प्रश्न के उत्तर भी मिल जाएंगे कि application for police station in hindi 

आवेदन क्या होता है ?

आवेदन यानी एप्लीकेशन का पूर्ण अर्थ है “आग्रह/निवेदन” अगर आप किसी से आग्रह या निवेदन करते हैं और वह आग्रह लिखित रूप में हो तो उसे ही आवेदन कहा जाता है | आवेदन कई प्रकार के होते हैं जैसे :- थाना प्रभारी को आवेदन, प्रधानाध्यापक को आवेदन, प्रधानाचार्य को आवेदन, जिला अधिकारी को आवेदन, इत्यादि | इसके साथ ही हर आवेदन को लिखने का अलग-अलग मकसद होता है जिसे जरूरत के हिसाब से लिखा जाता है |

पुलिस एप्लीकेशन क्या है ?

यह पुलिस अधिकारी को लिखा जाने वाला एक आवेदन है जिसके द्वारा कोई व्यक्ति अपने कार्य की व्याख्या उन अधिकारियों से करते हैं, यह आवेदन मुख्यतः पुलिस प्रशासन को लिखा जाता है अगर कोई आवेदन जो पुलिस के किसी अधिकारी को लिखा जाए तो उस आवेदन को “पुलिस एप्लीकेशन” कहा जाता है |

अगर आपको थाना से जुड़ी कोई कार्य है जिसके बारे में आप उस थाना के प्रमुख अधिकारी से व्याख्या करना चाहते हैं तो आपको एक आवेदन लिखकर उस अधिकारी को देना होगा जिसके आधार पर वह अधिकारी आपके कार्यों के बारे में जान सकेंगे तथा उस कार्य को अग्रसर करेंगे |

इस आवेदन में आपको अपने कार्य के विषय में विस्तार से बताना होता है, विषय कई अलग-अलग प्रकार के होते हैं जैसे :- धमकी के लिए पुलिस को शिकायत पत्र, सनहा, महिला थाना में आवेदन, प्राथमिकी के लिए पुलिस को आवेदन, लड़ाई झगड़े के लिए आवेदन, इत्यादि | इन सभी विषयों के लिए आवेदन लिखने का तरीका तो सामान्य होता है परंतु विषय अलग-अलग अंकित होता है जिससे यह पता चलता है कि पत्र लिखने का मुख्य उद्देश्य क्या है ?

पुलिस को एप्लीकेशन लिखने के कारण

पुलिस को एप्लीकेशन (police station application) लिखने का मुख्य उद्देश्य होता है प्रशासन से मदद लेना, अगर किसी व्यक्ति को पुलिस से किसी प्रकार की कोई मदद चाहिए होती है तो वह व्यक्ति पुलिस को एप्लीकेशन लिखता है, यह मदद कई प्रकार के हो सकते हैं जिसमें से कुछ मुख्य इस प्रकार है :- 

  • कई बार लोगों को आपस में लड़ाई झगड़ा हो जाता है उन्हें उनके घर के ही किसी सदस्य से, पड़ोसी से या किसी व्यक्ति से लड़ाई इतना ज्यादा हो जाता है जो आपस में सुलझ नहीं पाता, ऐसी स्थिति में हार कर उन्हें प्रशासन का सहारा लेना पड़ता है, अपने नजदीकी क्षेत्र के थाना में जाकर आवेदन देना पड़ता है |
  • कई बार लोगों का कोई सामान चोरी हो जाता है और वह सामान ना मिलने की वजह से उन्हें पुलिस में रिपोर्ट देना होता है जिसके लिए उन्हें आवेदन लिखकर जमा करना होता है |
  • कई बार किसी कारणवश लोगों को चरित्र प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है और उन्हें थाना से चरित्र प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है, ऐसे में लोगों को अपने नजदीकी थाना में आवेदन लिखकर जमा करना होता है ताकि आसानी से चरित्र प्रमाण पत्र मिल सके |
  • कई बार लोगों को किसी कारण से FIR करने की आवश्यकता होती है FIR करने के लिए सबसे पहले उन्हें थाना में आवेदन लिखकर जमा करना होता है |

पुलिस एप्लीकेशन के प्रकार 

जैसा कि मैंने आपको पहले ही बताया कि थाना प्रभारी (Thana prabhari) को आवेदन लिखने का केवल एक ही तरीका है परंतु हर आवेदन में अलग-अलग विषयों के बारे में व्याख्या होती है और यही विषय प्रकार में सम्मिलित हो जाता है इन्हीं विषयों के आधार पर पत्र पढ़ने वालों को यह ज्ञात होता है कि पत्र किन कारणों से लिखा गया है इसी क्रम में कुछ अत्यधिक उपयोग किए जाने वाले पुलिस एप्लीकेशन के प्रकार इस क्रम में है :- 

  • FIR के लिए पुलिस एप्लीकेशन (FIR Application in hindi)
  • चरित्र प्रमाण पत्र लेने के लिए पुलिस एप्लीकेशन (Application for Character Certificate from police station in hindi)
  • मोबाइल चोरी हो जाने पर पुलिस एप्लीकेशन (Application for lost Mobile in police station in hindi)
  • लड़ाई झगड़े होने पर पुलिस एप्लीकेशन (Police application for fight in hindi)
  • सिम कार्ड चोरी होने पर पुलिस एप्लीकेशन (Application for lost Sim card in police station in hindi)
  • धमकी के लिए पुलिस शिकायत पत्र (Police complaint letter for threat in hindi)
  • सनहा के लिए पुलिस एप्लीकेशन (police application for sanha in hindi)
  • प्राथमिकी के लिए पुलिस एप्लीकेशन (Police Application for FIR in hindi)

Application for Police Station in Hindi

हर आवेदन की तरह पुलिस आवेदन लिखने का भी एक निश्चित तरीका होता है जिस तरीके के आधार पर ही यह आवेदन तैयार होता है, अगर इस तरीके को आधार मानकर आवेदन नहीं लिखा जाए तो वह आवेदन मान्य नहीं बल्कि अमान्य माना जा सकता है | इस कारण आपको यह जानना बेहद आवश्यक है कि पुलिस एप्लीकेशन लिखने के मुख्य कौन से तरीके हैं जिसे फॉलो करके आप आवेदन तैयार कर सकें, आइए जानते हैं :- 

  • सबसे पहले बाई तरफ से लिखें “सेवा में”, तथा उसी पंक्ति में दाएं तरफ से दिनांक लिखें।
  • अब उसके नीचे बाई तरफ से “श्रीमान / श्रीमती थाना प्रभारी महोदय” लिखें।
  • उसके नीचे बाई तरफ से “थाना का नाम” लिखें।
  • उसके नीचे बाई तरफ से “विषय” लिखें।
  • उसके नीचे बाएं तरफ से लिखें “मेरा नाम ……………. है तथा मेरे पिताजी का नाम ……………. है और मैं आपके थाना क्षेत्र के “गाव/जगह का नाम” का रहने वाला नागरिक हूं |
  • आगे अगले पेराग्राफ़ मे अपने समस्या से जुड़ी जानकारी विस्तार में लिखें,
  • समस्या बताने के उपरांत लिखें “अतः श्रीमान थाना प्रभारी महोदय से आग्रह एवं निवेदन है कि (अपना विषय) की कृपा करें।
  • अब उसके नीचे बाईं तरफ से “अपना नाम तथा पता” तथा उसके नीचे दाएं तरफ अपना “हस्ताक्षर” डालें। 

Police Application Format 

Police ko Application kaise likhe
Police Application PDF in Hindi

थाना प्रभारी को आवेदन कैसे लिखें ?

FIR के लिए पुलिस एप्लीकेशन (प्राथमिकी के लिए पुलिस एप्लीकेशन) :-

दिनांक :- 05/01/2023

सेवा में, 

श्रीमान थाना प्रभारी महोदय

Madhubani (Bihar)

विषय:- जमीन संबंधी मामले के लिए एप्लीकेशन 

महाशय,

सविनय निवेदन यह है कि मैं अंकित कुमार, पंकज ठाकुर का सुपुत्र हूँ, मै आपके थाना क्षेत्र मधुबनी (सकरी) का नागरिक हूं । 

मेरी समस्या यह है कि मेरे छोटे भाई तथा मेरे बीच जमीन का सामाजिक बटबारा हुआ था जिसे मेरा छोटा भाई नहीं मान रहा है, जिस कारण मै अपने जमीन पर घर नहीं बना पा रहा हूँ |

अतः श्रीमान थाना प्रभारी महोदय से आग्रह एवं निवेदन है कि मेरे इस जमीनी बिवाद को जल्द से जल्द सुलझाने की कृपा करें।

आपका नाम :- अंकित कुमार 

पता :- मधुबनी (सकरी) 

हस्ताक्षर  :- Ankit Kumar 

Police ko Application kaise likhe
Application for Police Station in Hindi

चरित्र प्रमाण पत्र लेने के लिए पुलिस एप्लीकेशन :-

दिनांक :- 05/01/2023

सेवा में, 

श्रीमान थाना प्रभारी महोदय

Madhubani (Bihar)

विषय:- चरित्र प्रमाण पत्र लेने के लिए एप्लीकेशन

महाशय,

सविनय निवेदन यह है कि मैं अंकित कुमार, पंकज ठाकुर का सुपुत्र हूँ, मै आपके थाना क्षेत्र मधुबनी (सकरी) का नागरिक हूं । 

मैंने इस वर्ष CA की शिक्षा पूरी की है तथा आगे की शिक्षा के लिए विदेश जाना चाहता हूँ। विदेश यात्रा करने से पहले मुझे Passport तथा Visa कि आवश्यकता होगी, इसे बनवाने के लिए आपके द्वारा दिए जाने वाले चरित्र प्रमाण पत्र की जरूरत है।

अतः श्रीमान थाना प्रभारी महोदय से आग्रह एवं निवेदन है कि मुझे जल्द से जल्द चरित्र प्रमाण पत्र देने की कृपा करें।

आपका नाम :- अंकित कुमार 

पता :- मधुबनी (सकरी) 

हस्ताक्षर  :- Ankit Kumar 

Police ko Application kaise likhe
Application for Police Station in Hindi

मोबाइल चोरी हो जाने पर पुलिस एप्लीकेशन :-

दिनांक :- 05/01/2023

सेवा में, 

श्रीमान थाना प्रभारी महोदय

Madhubani (Bihar)

विषय:- मोबाइल चोरी हो जाने पर एप्लीकेशन

महाशय,

सविनय निवेदन यह है कि मैं अंकित कुमार, पंकज ठाकुर का सुपुत्र हूँ, मै आपके थाना क्षेत्र मधुबनी (सकरी) का नागरिक हूं । 

यह घटना दिनांक 03/01/2023 शाम 5 बजे कि है, मै मधुबनी स्टेशन अपने परिजनों को ट्रेन पकरवाने के लिए गया था | जब मै उन्हे ट्रेन मे बैठा कर स्टेशन से बाहर निकल तो मेरे पास मेरा फोन नहीं था, मैंने हर जगह ढूंढ पर कहीं नहीं मिला

अतः श्रीमान थाना प्रभारी महोदय से आग्रह एवं निवेदन है कि मेरे चोरी हो चुके मोबाईल कि खोज करने की कृपा करें।

आपका नाम :- अंकित कुमार 

पता :- मधुबनी (सकरी) 

हस्ताक्षर  :- Ankit Kumar 

Police ko Application kaise likhe
Application for Police Station in Hindi

लड़ाई झगड़े होने पर पुलिस एप्लीकेशन :-

दिनांक :- 05/01/2023

सेवा में, 

श्रीमान थाना प्रभारी महोदय

Madhubani (Bihar)

विषय:- लड़ाई झगड़े होने पर एप्लीकेशन

महाशय,

सविनय निवेदन यह है कि मैं अंकित कुमार, पंकज ठाकुर का सुपुत्र हूँ, मै आपके थाना क्षेत्र मधुबनी (सकरी) का नागरिक हूं । 

यह घटना दिनांक 03/01/2023 शाम 5 बजे कि है, मै अपने भाई  के साथ मधुबनी बाजार घूमने गया था, वहाँ  मै जब सामान ले रहा था तो संतोष नाम का आदमी अचानक आकार मेरे भाई को मारने लगा, मैंने बचाने कि बहुत कोशिश कि पर वह जल्दी वहाँ से भाग गया |

अतः श्रीमान थाना प्रभारी महोदय से आग्रह एवं निवेदन है कि इस मामले मे हमारी मदद करने की कृपा करें।

आपका नाम :- अंकित कुमार 

पता :- मधुबनी (सकरी) 

हस्ताक्षर  :- Ankit Kumar 

Police ko Application kaise likhe
Application for Police Station in Hindi

सिम कार्ड चोरी होने पर पुलिस एप्लीकेशन :-

दिनांक :- 05/01/2023

सेवा में, 

श्रीमान थाना प्रभारी महोदय

Madhubani (Bihar)

विषय :- सिम कार्ड चोरी होने के संबंध मे एप्लीकेशन

महाशय,

सविनय निवेदन यह है कि मैं अंकित कुमार, पंकज ठाकुर का सुपुत्र हूँ, मै आपके थाना क्षेत्र मधुबनी (सकरी) का नागरिक हूं । 

यह घटना दिनांक 03/01/2023 शाम 5 बजे कि है, मैंने अपना फोन “अपना मोबाईल शॉप” नाम के दुकान मे repair करवाने के लिए दिया था, जब उन्होंने repair करके फोन वापस दिया तो उसमे सिम कार्ड नहीं था, जब मैंने मांगा तो उन्होंने देने से इनकार कर दिया |

अतः श्रीमान थाना प्रभारी महोदय से आग्रह एवं निवेदन है कि इस मामले मे हमारी मदद करने की कृपा करें।

आपका नाम :- अंकित कुमार 

पता :- मधुबनी (सकरी) 

हस्ताक्षर  :- Ankit Kumar 

Police ko Application kaise likhe
Application for Police Station in Hindi

धमकी के लिए पुलिस शिकायत पत्र :-

दिनांक :- 05/01/2023

सेवा में, 

श्रीमान थाना प्रभारी महोदय

Madhubani (Bihar)

विषय:- धमकी भरे call के लिए एप्लीकेशन

महाशय,

सविनय निवेदन यह है कि मैं अंकित कुमार, पंकज ठाकुर का सुपुत्र हूँ, मै आपके थाना क्षेत्र मधुबनी (सकरी) का नागरिक हूं । 

श्रीमान पिछले तीन दिनों से रोज रात को किसी अनजान नंबर से कोई मुझे धमकी देता है कि “मै उसे पैसे दूँ नहीं तो वो मुझे जान से मार देगा”, वह ब्यक्ति रोज बस इतना कह कर ही call cut कर देता है | 

अतः श्रीमान थाना प्रभारी महोदय से आग्रह एवं निवेदन है कि इस मामले मे हमारी मदद करने की कृपा करें।

आपका नाम :- अंकित कुमार 

पता :- मधुबनी (सकरी) 

हस्ताक्षर  :- Ankit Kumar 

Police ko Application kaise likhe
Application for Police Station in Hindi

सनहा क्या होता है ? 

जब कोई व्यक्ति किसी होने वाली घटना के बारे में पहले ही पुलिस को जाकर बता देता है या फिर किसी ऐसे घटना के घटने का एहसास दिलाता है जो कि अभी तक घटा नहीं होता है ऐसे आवेदन को सनहा कहा जाता है | यह एक तरह से उस व्यक्ति का शंका होता है कि उसे कोई व्यक्ति क्षति पहुंचाने की कोशिश कर रहा है, अगर आपको किसी ऐसे व्यक्ति पर संदेह है कि वह आपको क्षति पहुंचा सकता है तो आप पुलिस में जाकर सनहा दर्ज कर सकते हैं |

यह आवेदन भी अन्य आवेदनों की तरह लिखा जाता है और यह आवेदन भी थाना प्रभारी के नाम से ही लिखा जाता है, इस आवेदन में यह बताया जाता है कि आपको किस व्यक्ति पर संदेह है और वह आपको किस प्रकार से नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर सकता है | यह सभी बातें आपको विस्तार में बतानी होती है ताकि पुलिस को पहले से यह पता रहे कि उस व्यक्ति से आपको खतरा है और पुलिस पहले ही उस व्यक्ति से पूछताछ करने लगे |

सनहा दर्ज करने के उपरांत अगर आपके साथ कुछ होता है, कोई आपको क्षति पहुंचाने की कोशिश करता है तो यह जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन पर जाती है और उनके खिलाफ कार्रवाई हो सकती है |

सनहा के लिए पुलिस एप्लीकेशन :-

सेवा में, 

श्रीमान थाना प्रभारी महोदय

Madhubani (Bihar)

विषय:- सनहा के लिए एप्लीकेशन

महाशय,

सविनय निवेदन यह है कि मैं अंकित कुमार, पंकज ठाकुर का सुपुत्र हूँ, मै आपके थाना क्षेत्र मधुबनी (सकरी) का नागरिक हूं । 

श्रीमान मुझे मेरे चचेरे भाई कुंदन कुमार से कुछ दिनों पहले जमीन को लेकर लड़ाई हुई थी, उस दिन से वो मुझे और मेरे घर के लोगों को बिना बात के गली देता रहता है, मुझे संदेह है कि आने वाले कुछ दिनों मे वो मुझपर तथा मेरे परिवार वालों पर हमला करने कि फिराक मे है |

अतः श्रीमान थाना प्रभारी महोदय से आग्रह एवं निवेदन है कि कुंदन कुमार से मुझे तथा मेरे परिवार के लोगों को बचाने की कृपा करें।

आपका नाम :- अंकित कुमार 

पता :- मधुबनी (सकरी) 

हस्ताक्षर  :- Ankit Kumar

Police ko Application kaise likhe
Application for Police Station in Hindi

Police Application Format PDF

पुलिस एप्लीकेशन के महत्व

पुलिस एप्लीकेशन के महत्व प्रशासनिक कार्यों में है किसी भी प्रकार के प्रशासनिक कार्यों को सही रूप से पूरा करने हेतु पुलिस एप्लीकेशन जरूरी है, अगर कोई व्यक्ति अपना सिकायत लेकर पुलिस के पास जाता है तो सबसे पहले उसका कार्य है उस समस्या से जुड़ी आवेदन को लिखकर प्रस्तुत करना, उसी आवेदन को मूल मानकर उस व्यक्ति के कार्यों को आगे बढ़ाया जाता है |

पुलिस एप्लीकेशन का महत्व हर प्रकार के कार्यों में होता है, जो कार्य पुलिस के द्वारा पूरा किया जा सकता है | यह अत्यंत आवश्यक है आपके कार्यों को पूरा होने के लिए क्योंकि अगर आप थाने में अपनी कोई शिकायत लेकर जाते हैं तो आप उस बात को किसी अधिकारी को बता सकते हैं परंतु मौखिक रूप से बस आपकी बातों को सुना तथा समझा जाएगा, समस्या से जुड़ी कार्रवाई करने के लिए सर्वप्रथम आपको आवेदन प्रस्तुत करना होगा |

Police Application लिखते समय सावधानियां

पुलिस एप्लीकेशन लिखने से पहले आपको यह ज्ञात होना चाहिए कि आवेदन लिखते समय आपको कुछ सावधानियों का विशेष ख्याल रखना होता है तभी आपका आवेदन मान्य माना जा सकता है।

  • Police Application लिखने के लिए हमेशा सारे कागज का उपयोग करें।
  • आपके आवेदन में कहीं भी Overwriting नहीं होनी चाहिए।
  • आवेदन में आपकी भाषा सरल तथा दूसरे के समझने योग्य होनी चाहिए।
  • आवेदन मे हमेसा सही फॉर्मेट का उपयोग करें।
  • आवेदन में अपनी बातों को विस्तार में व्यक्त करें।
  • आवेदन में दिनांक, विषय, नाम तथा पता का उपयोग अवश्य करें।
  • आवेदन मे उसी दिन का दिनांक डालें जिस दिन आप उसे जमा करने जा रहे हैं।
  • आवेदन में अपना हस्ताक्षर अवश्य डालें।
  • आवेदन लिखते समय हमेशा सामान्य भाषा का उपयोग करें।
  • आवेदन ऐसे लिखे जिसे पढ़ने से आपकी बातो स्पष्ट रूप से पता चले।

FAQ

Q.1) अगर किसी को झगड़ा हो जाए तो क्या करना चाहिए ?

Answer :- अगर किसी को किसी व्यक्ति से झगड़ा हो जाता है तो सर्वप्रथम उसे आपस में समझाने की कोशिश करनी चाहिए अगर यह मुमकिन ना हो तो उसे सामाजिक तौर पर प्रस्तुत करके उसका हल निश्चित कर लेना चाहिए परंतु अगर यह तरीका भी काम ना आए तो अपने नजदीकी थाना जाकर एफ.आई.आर दर्ज करना चाहिए |

Q.2) महिला थाना में आवेदन कैसे लिखें ?

Answer :- महिला थाना तथा पुरुष थाना मे आवेदन का प्रारूप समान होता है परंतु आवेदन में उपयुक्त शब्द का प्रयोग करें ताकि स्त्रीलिंग या पुलिंग का बोध हो और यह साफ-साफ ज्ञात हो कि आपके द्वारा लिखे गए आवेदन महिला अधिकारी के लिए है या पुरुष अधिकारी के लिए |

Q.3) FIR कौन लिख सकता है ?

Answer :- लिखने का अधिकार थाना में उपस्थित हर उच्च अधिकारी को होता है तथा यह अधिकार उन अधिकारियों को थाना प्रभारी के द्वारा प्राप्त होता है, FIR से जुड़ी आवेदन लिखने का अधिकार केवल उस व्यक्ति को होता है जो FIR करवाना चाहता है |

Q.4) Police Application किसके नाम से लिखें ?

Answer :- Police Application ( पुलिस आवेदन ) हमेस पुलिस के बारे अधिकारी के नाम से लिखा जाता है, अगर आप थाना को आवेदन लिख रहे है तो वो आवेदन हमेस थाना प्रभारी के नाम से लिखा जाएगा |

Conclusion

दोस्तों इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि Police application kaise likhe साथ ही इस पोस्ट में हमने police application के बारे में सारी जानकारियां विस्तार में जानी साथ ही हमने इसके बारे में अन्य जानकारियां भी प्राप्त की जैसे :- पुलिस एप्लीकेशन क्या होता है, पुलिस को एप्लीकेशन लिखने के कारण, पुलिस एप्लीकेशन के प्रकार, पुलिस को एप्लीकेशन लिखने का तरीका, पुलिस एप्लीकेशन फॉर्मेट, महत्व, सावधानियां, इत्यादि |

आशा करता हूं इस पोस्ट को पढ़कर आपको कुछ नया सीखने को मिला होगा साथ ही आपको आपके प्रश्न का भी उत्तर मिल गया होगा कि application for police station in hindi

इसे भी पढ़ें :-

Leave a Comment