Tc application hindi में कैसे लिखें | 3 प्रकार के टीसी प्रमाण पत्र

स्वागत है आपका हमारे इस ब्लॉग में,
आज की इस पोस्ट में हम और आप जानेंगे कि tc application hindi me kaise likhe अगर आप भी जानना चाहते हैं कि tc application hindi me kaise likhe तो इस पोस्ट को बिल्कुल अंत तक जरूर पढ़ें

क्योंकि इस पोस्ट में हम आपको TC Application लिखने के कारण, TC Application लिखने की सभी तरीके तथा TC Application लिखते हुए किन-किन सावधानियों का ध्यान रखना चाहिए, सब कुछ विस्तार में बताने वाले हैं।

जिसको पढ़कर आपको TC Application लिखने के तरीकों का पता चल जाएगा तथा साथ ही आपको आपके सवालों का जवाब भी मिल जाएगा कि tc application hindi me kaise likhe

TC Application लिखने के कारण

यह जानने से पहले कि tc application hindi me kaise likhe, यह जानना अनिवार्य है कि tc application लिखने के क्या कारण है ?

टीसी एप्लीकेशन लिखने के कई अलग-अलग कारण हो सकते हैं परंतु आज के इस पोस्ट में हम आपको तीन प्रमुख कारणों के बारे में बताने वाले हैं जो कि एक सामान्य कारण है टीसी एप्लीकेशन लिखने का या TC प्राप्त करने का जो निम्नलिखित है :-

पहला कारण

सबसे पहला कारण यह है कि आप कक्षा 10 की पढ़ाई पूरी कर चुके हैं तथा अब आपको आगे की पढ़ाई के लिए कॉलेज में नामांकन करवाना है जिसके लिए आपको टीसी की जरूरत होती है।

हर विद्यार्थी दसवीं की कक्षा उत्तीर्ण करके 11वीं कक्षा में नामांकन कराता है और उन सभी छात्रों को डीसी की आवश्यकता होती है इससे उन्हें टीसी एप्लीकेशन लिखना आना चाहिए ताकि वह अपने आगे की पढ़ाई पूरी कर सके।

दूसरा कारण

दूसरा और महत्वपूर्ण कारण यह है कि आप कक्षा 12वीं की पढ़ाई पूरी कर चुके हैं तथा आगे की पढ़ाई करना चाहते हैं

किसी भी क्षेत्र में पढ़ाई करने के लिए सभी छात्रों को कक्षा 12 से होकर गुजरना पड़ता है तथा 12वीं कक्षा पूरी करने के बाद उनको अन्य कॉलेज था विश्वविद्यालय में नामांकन कराने की इच्छा रहती है।

जैसा कि हम सभी को पता है कि किसी भी स्कूल या कॉलेज से दूसरे स्कूल या कॉलेज में नामांकन कराने के लिए टीसी की आवश्यकता होती है

तीसरा कारण

तीसरा और महत्वपूर्ण कारण यह है कि आपका किसी पारिवारिक कारणों की वजह से बिना पूरी पढ़ाई किए दूसरे स्कूल या कॉलेज में नामांकन करवाना

काफी समय छात्रों के साथ ऐसा भी होता है कि उन्हें किसी कारणवश अपने वर्तमान स्कूल या कॉलेज को पढ़ाई के बीच में ही छोड़ना पड़ता है तथा दूसरे स्कूल या कॉलेज में नामांकन करवाना होता है

परंतु उसके लिए उनके पास tc होनी चाहिए जिसके उपरांत ही वे दूसरे स्कूल या कॉलेज में नामांकन करवा सकते हैं

TC (स्थानातरण प्रमाण पत्र) क्या होता है

TC नाम से ही पता चलता है कि एक प्रकार का सर्टिफिकेट है जो ट्रांसफर के लिए जरूरी है।

यह प्रमाण पत्र सबूत है इस बात का कि आपने पिछली पढ़ाई उस स्कूल या कॉलेज से की तथा आगे की पढ़ाई आप उस स्कूल से नहीं बल्कि नए स्कूल या कॉलेज से करना चाहते हैं

यह इकलौता ऐसा प्रमाण है जिसके द्वारा यह सिद्ध होता है कि आपने अब से पहले की शिक्षा प्राप्त की है और इसी आधार पर आपका नामांकन आगे की कक्षा में किया जा सकता है

अन्यथा ऐसा कोई सबूत/प्रमाण आपके पास नहीं होता जिससे यह पता लगा सके कि आपने कौन सी कक्षा की शिक्षा ग्रहण की है और कौन सी नहीं की।

इस वजह से इस प्रमाण पत्र का योगदान आपके शिक्षा के क्षेत्र में अहम भूमिका अदा करती है।

TC Full Form क्या है

TC Full Form “Transfer Certificate” है और अगर इसका हिंदी रूपांतरण करें तो इसे हिंदी में “स्थानांतरण प्रमाण पत्र” कहा जाता है।

टीसी प्रमाण पत्र के प्रकार

TC यानी Transfer Certificate के काफी सारे प्रकार हैं और सभी क्षेत्रों में इसका महत्व है परंतु छात्रों के लिए यह मुख्य दो प्रकार के होते हैं :-

1.) TC For School
2.) TC For College

TC For School ( School के लिए TC )

स्कूल के लिए टीसी की जरूरत तब होती है जब आप किसी स्कूल की शिक्षा पूरी कर चुके होते हैं और आगे की शिक्षा के लिए आपको टीसी की आवश्यकता है और यह tc आपको आपके वर्तमान विद्यालय द्वारा प्रदान किया जाएगा।

जैसे कि मैंने आपको ऊपर बताया है कि स्कूल के लिए टीसी की आवश्यकता उस समय भी होती है जब आप पढाई को बीच से ही छोड़कर दूसरे स्कूल में नामांकन करवाना चाहते हैं।

TC For College ( College के लिए TC )

कॉलेज के लिए टीसी (transfer certificate) की आवश्यकता तब होती है जब आप उस कॉलेज की शिक्षा को पूरी कर चुके हैं, जैसे 12वीं की शिक्षा तथा आप आगे की पढ़ाई किसी अन्य क्षेत्र में करना चाहते हैं

इस स्थिति में आपको आपके उस कॉलेज से टीसी लेना होता है जहां से आपने अपने 12वीं की शिक्षा समाप्त की है।

TC Application किसे कहते हैं

जब आप अपनी स्थानांतरण प्रमाण पत्र लेना चाहते हैं और आप अपने पुराने स्कूल या कॉलेज में जाकर प्रधानाचार्य को बताना चाहते हैं तो उस स्थिति में आपको टीसी लेने के लिए मौखिक नहीं बल्कि लिखित बताना होता है।

यह एक पुराना परंपरा है जिसके माध्यम से आप अपने से श्रेष्ठ से किसी काम के लिए आग्रह करते हैं

आपको एक पत्र लिखना होगा जिसमें आप किसी के बारे में बताएंगे और साथ ही उसे लेने का कारण भी व्यक्त करेंगे ताकि आपके आग्रह को पाकर वे आपके स्थानांतरण प्रमाण पत्र को देने के लिए उत्तरदाई हो।

टीसी एप्लीकेशन लिखने का तरीका

जैसा कि हम सभी को पता है कि हर एप्लीकेशन को लिखने का एक तरीका होता है, इसी प्रकार स्थानांतरण प्रमाण पत्र लिखने का भी एक निश्चित तरीका है जिस तरीके को आपको फॉलो करना होगा तभी वह पत्र माननीय माना जाएगा।

  • सबसे पहले बाई तरफ से लिखे “सेवा में” और उसके ठीक नीचे बाएं तरफ से लिखें “श्रीमान प्रधानाध्यापक/प्रधानाचार्य महोदय
  • अब इसके नीचे विषय तथा अपने विद्यालय/कॉलेज का नाम डालें।
  • उसके नीचे लिखे “महाशय” अब इसके नीचे Next Paragraph में लिखे “सविनय निवेदन यह है कि मेरा नाम है तथा मैं आपके विद्यालय कॉलेज के कक्षा का छात्र रह चुका हूं”
  • अब आप अपनी समस्या बताएं कि आपको किस कारण से स्थानांतरण प्रमाण पत्र चाहिए।
  • अपना कारण विस्तार से बताने के बाद लिखें “अतः श्रीमान से आग्रह एवं निवेदन है कि मुझे जल्दी से जल्दी स्थानांतरण प्रमाण पत्र देने की कृपा करें”
  • उसके नीचे दाएं तरफ से लिखें “आपका आज्ञाकारी छात्र/छात्रा
  • अब उसके नीचे दाएं तरफ से बारी-बारी से अपना नाम, वर्ग, वर्ग क्रमांक, इत्यादि लिखें तथा दाईं तरफ से अपना हस्ताक्षर तथा दिनांक डालें।

कक्षा 6 की टीसी की एप्लिकेशन

सेवा में,
आदरणीय प्रधानाध्यापक महोदय
विद्यालय – D.A.V School Madhubani
विषय – स्थानांतरण प्रमाण पत्र लेने के संबंध में

महाशय्
सविनय निवेदन यह है कि मै आपके विद्यालय D.A.V के वर्ग 6 तथा वर्ग क्रमांक 3(B) का छात्र रह चूँका हूँ।

मैंने इस विद्यालय से पिछली वर्ष कक्षा 6ठी की शिक्षा पूरी कर ली है तथा मै आगे की पढाई दूसरे विद्यालय से पूरी करना चाहता हूँ जिसके लिए मुझे आपके द्वारा दिए जाने वाले स्थानांतरण प्रमाण पत्र की आवश्यकता है।

अतः श्रीमान से आग्रह एवं निवेदन है कि मुझे अतिशीघ्र स्थानांतरण प्रमाण पत्र देने की कृपा करें जिसके लिए मैं श्रीमान का सदैव आभारी रहूँगा।
(आपका आज्ञाकारी छात्र)
नाम – अमन कुमार
वर्ग – 6
वर्ग क्रमांक – 3(B)
विद्यालय – D.A.V School Madhubani

कक्षा 8 की टीसी की एप्लिकेशन

सेवा में,
आदरणीय प्रधानाध्यापक महोदय
विद्यालय – D.A.V School Madhubani
विषय – स्थानांतरण प्रमाण पत्र लेने के संबंध में

महाशय्
सविनय निवेदन यह है कि मै आपके विद्यालय D.A.V के वर्ग 8 तथा वर्ग क्रमांक 31(B) का छात्र रह चूँका हूँ।

मैंने इस विद्यालय से पिछली वर्ष कक्षा 8वीं की शिक्षा पूरी कर ली है तथा मै आगे की पढाई दूसरे विद्यालय से पूरी करना चाहता हूँ जिसके लिए मुझे आपके द्वारा दिए जाने वाले स्थानांतरण प्रमाण पत्र की आवश्यकता है।

अतः श्रीमान से आग्रह एवं निवेदन है कि मुझे अतिशीघ्र स्थानांतरण प्रमाण पत्र देने की कृपा करें जिसके लिए मैं श्रीमान का सदैव आभारी रहूँगा।
(आपका आज्ञाकारी छात्र)
नाम – अमन कुमार
वर्ग – 8
वर्ग क्रमांक – 31(B)
विद्यालय – D.A.V School Madhubani

दसवीं की टीसी की एप्लिकेशन

सेवा में,
आदरणीय प्रधानाध्यापक महोदय
विद्यालय – D.A.V School Madhubani
विषय – स्थानांतरण प्रमाण पत्र लेने के संबंध में

महाशय्
सविनय निवेदन यह है कि मै आपके विद्यालय D.A.V के वर्ग 10 तथा वर्ग क्रमांक 22(A) का छात्र रह चूँका हूँ।

मैंने इस विद्यालय से पिछली वर्ष कक्षा 10वीं की शिक्षा पूरी कर ली है तथा मै आगे की पढाई D.A.V (Delhi) महाविद्यालय से पूरी करना चाहता हूँ जिसके लिए मुझे आपके द्वारा दिए जाने वाले स्थानांतरण प्रमाण पत्र की आवश्यकता है।

अतः श्रीमान से आग्रह एवं निवेदन है कि मुझे अतिशीघ्र स्थानांतरण प्रमाण पत्र देने की कृपा करें जिसके लिए मैं श्रीमान का सदैव आभारी रहूँगा।
(आपका आज्ञाकारी छात्र)
नाम – अमन कुमार
वर्ग – 10
वर्ग क्रमांक – 22(A)
विद्यालय – D.A.V School Madhubani

बारहवीं की टीसी की एप्लिकेशन

सेवा में,
आदरणीय प्रधानाचार्य महोदय
काॅलेज – R.K College Madhubani
विषय – स्थानांतरण प्रमाण पत्र लेने के संबंध में

महाशय्
सविनय निवेदन यह है कि मै आपके काॅलेज R.K College के वर्ग 12 तथा वर्ग क्रमांक 227 का छात्र रह चूँका हूँ।

मैंने इस विद्यालय से पिछली वर्ष कक्षा 12वीं की शिक्षा पूरी कर ली है तथा मै आगे की पढाई D.A (Delhi) महाविद्यालय से पूरी करना चाहता हूँ जिसके लिए मुझे आपके द्वारा दिए जाने वाले स्थानांतरण प्रमाण पत्र की आवश्यकता है।

अतः श्रीमान से आग्रह एवं निवेदन है कि मुझे अतिशीघ्र स्थानांतरण प्रमाण पत्र देने की कृपा करें जिसके लिए मैं श्रीमान का सदैव आभारी रहूँगा।
(आपका आज्ञाकारी छात्र)
नाम – अमन कुमार
वर्ग – 12
वर्ग क्रमांक – 227
विद्यालय – R.K College Madhubani

एक स्कूल से दूसरे स्कूल स्थानांतरण प्रमाण पत्र के लिए आवेदन

सेवा में,
आदरणीय प्रधानाध्यापक महोदय
विद्यालय – D.A.V School Madhubani
विषय – स्थानांतरण प्रमाण पत्र लेने के संबंध में

महाशय्
सविनय निवेदन यह है कि मै आपके विद्यालय D.A.V के वर्ग 5 तथा वर्ग क्रमांक 13(C) का छात्र रह चूँका हूँ।

मेरे पिताजी एक सरकारी विद्यालय के शिक्षक है और उनका स्थानांतरण यहाँ से Delhi के विद्यालय में कर दिया गया है इस कारण मुझे आगे की पढाई delhi विद्यालय से पूरी करनी होगी। वहाँ नामांकन करवानेत् के लिए मुझे आपके द्वारा दिए जाने वाले स्थानांतरण प्रमाण पत्र की आवश्यकता है।

अतः श्रीमान से आग्रह एवं निवेदन है कि मुझे अतिशीघ्र स्थानांतरण प्रमाण पत्र देने की कृपा करें जिसके लिए मैं श्रीमान का सदैव आभारी रहूँगा।
(आपका आज्ञाकारी छात्र)
नाम – अमन कुमार
वर्ग – 5
वर्ग क्रमांक – 13(C)
विद्यालय – D.A.V School Madhubani

TC Application Format

Format for School TC (transfer certificate) Application :-

tc application hindi
TC application hindi

Format for College TC (transfer certificate) Application :-

tc application hindi
TC application hindi

TC एप्लीकेशन लिखते वक्त सावधानियां

टीसी एप्लीकेशन को लिखते वक्त आपको कुछ सावधानियों का विशेष ध्यान रखना है :-

  • इसे लिखते समय आप सही फॉर्मेट का उपयोग करें अन्यथा इसकी मान्यता रद्द हो सकती है।
  • टीसी एप्लीकेशन लिखते समय आपके पास सादा कागज होना अनिवार्य है।
  • इसमे आपको दिनांक, वर्ग तथा वर्ग क्रमांक को अवश्य जोड़ना है।
  • एप्लीकेशन लिखते समय आपको अपनी बातों को विस्तार में व्यक्त करना है।
  • एप्लीकेशन लिखते समय आपकी भावना साफ-साफ दिखनी चाहिए ताकि उसे पढ़कर उसे स्वीकार किया जाए।
  • एप्लीकेशन में आपकी बातें तथा कारण साफ-साफ पता चलनी चाहिए।
  • एप्लीकेशन लिखते समय आपको सरल तथा नम्र भाषा का उपयोग करना है।
  • एप्लीकेशन में कोई भी शब्द गलत ना लिखें।
  • एप्लीकेशन में आपको overwritting नहीं करनी है तथा पूरी एप्लीकेशन साफ-साफ तथा आसान भाषा में बताना है।

टीसी एप्लीकेशन के महत्त्व

किसी भी टीसी को प्राप्त करने के लिए एप्लीकेशन का प्रमुख योगदान है क्योंकि यही वह तरीका है जिसकी मदद से आप स्थानांतरण प्रमाण पत्र को प्राप्त कर सकते हैं

क्योंकि किसी भी प्रमाण पत्र (चाहे वह स्थानांतरण प्रमाण पत्र हो या कोई और प्रमाण पत्र) को पाने के लिए लिखित रूप में अपनी बातों तथा भावनाओं को सामने वाले व्यक्ति के साथ व्यक्त करना होता है इसका कोई मौखिक तरीका नहीं है

स्थानांतरण प्रमाण पत्र हेतु आवेदन पत्र (फोटो)

A.) कक्षा 6 की टीसी की एप्लिकेशन (फोटो)

tc application hindi
TC application hindi

B.) कक्षा 8 की टीसी की एप्लिकेशन (फोटो)

tc application hindi
TC application hindi

C.) दसवीं की टीसी की एप्लिकेशन (फोटो)

tc application hindi
TC application hindi

D.) बारहवीं की टीसी की एप्लिकेशन (फोटो)

tc application hindi me
TC application hindi

E.) एक स्कूल से दूसरे स्कूल स्थानांतरण प्रमाण पत्र के लिए आवेदन (फोटो)

tc application hindi me kaise likhe
TC application hindi

FAQ

Q.1) टीसी को हिंदी में क्या कहते हैं ?

Answer – टीसी को हिंदी में स्थानांतरण प्रमाण पत्र कहा जाता है। स्थानांतरण प्रमाण पत्र कई प्रकार के होते हैं परंतु मुख्यत: यह स्कूल तथा कॉलेज में उपयोग किए जाते हैं।

Q.2) स्कूल टीसी क्या होता है ?

Answer – स्कूल टीसी स्कूल के द्वारा दिए जाने वाला एक प्रकार का प्रमाण पत्र होता है जो तब दिया जाता है जब कोई छात्र/छात्रा उस स्कूल की सभी कक्षाओं को उत्तीर्ण कर चुका होता है तथा उसे आगे की पढ़ाई के लिए नया स्कूल या कॉलेज में नामांकन करवाना होता है। उस समय उस छात्र का नामांकन उसी टीसी प्रमाण पत्र के आधार पर किया जाता है।

Q.3) स्थानांतरण प्रमाण पत्र को अंग्रेजी में क्या कहते हैं ?

Answer – स्थानांतरण प्रमाण पत्र को अंग्रेजी में Transfer Certificate (ट्रांसफर सर्टिफिकेट) कहते हैं और इसका Short name TC (टीसी) है।

Conclusion

दोस्तों आज की इस पोस्ट में हमने जाना कि tc application hindi me kaise likhe

साथ ही इस पोस्ट में tc application तथा TC के बारे में काफी कुछ जाना जैसे :- tc क्या है, tc application क्या है, लिखने के कारण, full form, लिखने का तरीका, इत्यादि।

आशा करता हूँ इस पूरे पोस्ट से आपको काफी कुछ नया सीखने को मिला होगा साथ ही आपको आपके सवालों का जवाब भी मिल गया होगा कि tc application hindi me kaise likhe

इसे भी पढें :-

2 thoughts on “Tc application hindi में कैसे लिखें | 3 प्रकार के टीसी प्रमाण पत्र”

Leave a Comment